खिंचाव के निशान (Streck Marks)

स्ट्रेच मार्क्स त्वचा पर हानिरहित दागों का एक रूप हैं। ये निशान हल्के रंग के होते हैं और त्वचा के आकार बदलने के कारण होते हैं।

स्ट्रेच मार्क्स क्या है?(What is stretch marks)?

वजन में बदलाव, शरीर सौष्ठव या हार्मोनल बदलावों के कारण त्वचा तेजी से फैलती है जिससे त्वचा में मार्क्स बन जाते हैं। जहां त्वचा खिंच रही हैस वहां लाल और बैगनी निशान बनने लगते हैं। स्‍ट्रेच मार्क्‍स शरीर में दिखने वाले एक भद्दे से निशानों का एक प्रकार है। ये निशान शरीर में धारदार लाइन और हल्के रंग के नजर आते है जो त्वचा के आकार बदलने के कारण होते हैं। स्‍ट्रेच मार्क्‍स आमतौर पर महिलाओं को प्रेगनेंसी के दौरान पेट पर और शरीर के सामान्‍य हिस्‍सों जैसे स्‍तन, बांहो, नितम्‍बों और जांघों पर हो जाते है।
वजन बढ़ने, बॉडी बिल्डिंग और हार्मोनल बदलावों के कारण त्‍वचा में फैलाव की वजह से त्‍वचा में मार्क्‍स बन जाते हैं। जहां जहां से शरीर की त्‍वचा स्‍ट्रेच यानी फैलनी शुरु होती हैं, वहां ये स्‍ट्रेच मार्क्‍स उभरने लगते हैं।

स्ट्रेच मार्क्स या खिंचाव के निशान हटाने के घरेलू उपाय (Home remedies to remove stretch marks or stretch marks)

कई बार शरीर की त्वचा पर त्वचा के रंग से भिन्न लकीर या धारियों के निशान पड़ने लगते हैं, इन्हे ही स्ट्रेच मार्क्स कहते हैं। सामन्यतः ये पेट पर1 अधिक होते हैं, परन्तु ये शरीर के किसी भी अंग की त्वचा जैसे हाथ , कोहनी के पास, पैरों की पिंडलियाँ, जांघ आदि पर भी हो सकते हैं। महिलाएं मुख्यतः इससे बहुत ही परेशान रहती है। पुरुष वर्ग भी इन निशान की समस्या से अनछुआ नहीं है। बहुत अधिक कसरत या सही कसरत ना करने पर भी शरीर पर कुछ निशान बनने लगते हैं। कई बार स्ट्रेच मार्क्स शरीर के बड़े हिस्से में भी होने लगते हैं। अगर इन पर ध्यान नहीं दिया जाए, तो यह समस्या बढ़ने लगती है।

1.पानी (Water) :-

जल ही जीवन है। पृथ्वी पर रहने के लिए पानी सबसे आवश्यक है। शरीर की आधी बीमारियां पानी पीने से नष्ट हो जाती हैं। हमारे शरीर में 72% पानी की मात्रा है। डॉक्टर्स भी रोजाना कम से कम 8-10 गिलास पानी पीने की सलाह देते हैं। पानी शारीर में होने वाले हार्मोन्स के बदलाव को बराबर रखने में सहायक होता है। भरपूर पानी की मात्रा शरीर में रक्त में उपस्थित ऑक्सीजन को संयोजित रखता है, जिससे रक्तसंचार सही होता है। इसके कारण प्रत्येक तन्तु एवं कोशिकाएं सुचारू रूप से अपना कार्य करती हैं और इनमे होने वाले खिंचाव को रोकता है, जिससे किसी भी प्रकार के स्ट्रेच मार्क्स या निशान नहीं होते हैं।

2.अरण्डी का तेल (Castor oil) :-

स्ट्रेच मार्क्स को हटाने के लिए अरण्डी के तेल का उपयोग भी किया जाता है। इसे 5-10 मिनट के लिए निशान पर ऊँगली से गोल घुमाकर मालिश करते हुए लगाइए और फिर उतनी जगह को किसी कपड़े से बाँध (जैसा किसी पर पट्टी बांधते हैं) कर आधे घंटे तक गुनगुने पानी की भाप दीजिये। एक महीने तक ऐस करने से निशान गायब होने लगेंगे।

3.एलोवेरा (Aloevera):-

एलोवेरा मुहासे हटाने का बहुत अच्छा इलाज है. एलोवेरा त्वचा सम्बन्धी सभी परेशानी को हटाने का रामबाण इलाज है। चाहे चेहरे पर कील, मुहांसे हो, या उनके दाग, काले घेरे या किसी भी प्रकार के निशान, अलोवेरा हर मर्ज की दवा है। इसे किसी भी रूप में उपयोग किया जा सकता है। इसे लगाना बहुत ही आसान है। एलोवेरा के गुदे को निकाल कर इसे चेहरे पर लगाने से चेहरे की झाइयाँ, कालेघेरे, दाग धब्बे एवं निशान कम होने लगते हैं और चेहरा और त्वचा चमकने लगते हैं। इसे शरीर के किसी भी अंग के निशान मिटाने के लिए प्रयोग किया जा सकता है|

4.अंडे की सफेदी (Egg Whiteness) :-

अंडा प्रोटीन का सबसे अच्छा स्त्रोत है। अंडे की सफेदी में एमिनो एसिड और प्रोटीन भरपूर मात्रा में होता है। जिस भी जगह पर किसी प्रकार के निशान हो, उस पर अंडे की सफेदी को 15-20 मिनट तक (जब तक सुख ना जाये) लगा कर रखिये। फिर उसे ठन्डे पानी से धो लीजिए। इसके बाद उस पर नमी के लिए जैतून का या कोई और तेल लगाइए। ऐसा रोजाना कुछ दिनों तक करने पर स्ट्रेच मार्क्स हल्के होने लगेंगे।

5.हल्दी (Turmeric) :-

हल्दी एक आयुर्वेदिक औषधि है| हडली में पानी या तेल डालकर पेस्ट बनायें, इसे स्ट्रेच मार्क्स पर दिन में दो बार लगायें, ये जल्दी ही कम होने लगेंगें|

स्ट्रेच मार्क्स हटाने के लिए बेस्ट तेल (Best oil to remove stretch marks)

बायो ऑयल क्या होता है (What is bio oil)

बायो ऑयल का उपयोग स्ट्रेच मार्क्स हटाने के लिए किया जाता है बायो ऑयल में विटामिन ई भरपूर मात्रा में पाया जाता है। इसके साथ ही इसमें लैवेंडर (Lavender) , रोजमेरी (Rosemary) और कैमोमाइल (Cammomile) जैसे ऑयल भी शामिल होते हैं।

बायो ऑयल के फायदे (Benefits of bio oil)

बायो ऑयल के फायदे जानने से पहले पाठक इस बात को भी ध्यान में रखें कि बायो ऑयल लेख में शामिल किसी भी समस्या का मेडिकल ट्रीटमेंट नहीं है। यह सिर्फ उन समस्या के प्रभाव को कुछ हद तक कम करने में सहायक भूमिका निभा सकता है।

1. झुर्रियों को कम करने के लिए
2. मुंहासों और दाग-धब्बों से आराम दिलाए
3. स्ट्रेच मार्क्स कम करने के लिए
4. रंगत निखारने के लिए
5. ऑयली त्वचा के लिए लाभदायक
6. बालों के लिए लाभदायक

लाल और सफेद स्‍ट्रेच मार्क्‍स में फर्क क्‍या है?(What is the difference between red and white stretch marks)?

  • लाल स्ट्रेच मार्क्स(Red stretch marks) :- लाल रंग के स्ट्रेच मार्क्स अगर आपकी त्‍वचा पर है तो ये निशान ताजे है, जो नए नए आपके शरीर पर हुए है। यह केवल स्‍ट्रेच मार्क्‍स का शुरुआती स्‍तर है। इस तरह के निशान ब्‍लड वेसल्स को दिखाते हैं, इसलिए इनका रंग लाल होता है। इस स्तर पर, विभिन्न टॉपिकल क्रीम के माध्यम से कोलेजन को पुनर्स्थापित करके निशान तेजी से ठीक हो सकते हैं। यहां तक कि ‘पल्स डाय’ जैसे लेजर उपचार इन निशानों पर प्रभावी ढंग से काम करते हैं जो नई कोशिकाओं को बनाते हैं। फिर भी हम आपको कुछ नीचे लाल स्‍ट्रेच मार्क्‍स हटाने के घरेलू उपाय बताएंगे, जिनसे आपको कुछ राहत मिलेगी।
  • सफेद स्ट्रेच मार्क्स(White stretch marks) :- इन स्‍ट्रेच मार्क्‍स को शरीर में बने हुए कभी लम्‍बा समय हो जाता है तो ये सफेद रंग के हो जाते है, ‘माइक्रोडर्माब्रेसन’ जैसे उपचार, इन निशान के बनावट को सुधारने और पॉलिश करने में मदद कर सकते हैं। हालांकि यह उपचार कोलेजन को पुनर्स्थापित करने में सक्षम नहीं होगा। सफेद स्ट्रेच मार्क्स के लिए एक अन्य उपचार ‘एक्सीमर लेजर’ है, जो स्‍ट्रेच मार्क्‍स के रंग को पुनर्स्थापित करने में मदद करता है। दूसरे तरह के लेजर आधारित ट्रीटमेंट जैसे आईपीएल और फ्रैक्सेल इन स्‍ट्रेच मार्क्‍स की बनावट को सुधारने और रंग को फीका करने में मदद करते हैं। लेकिन इन सभी ट्रीटमेंट का रिजल्‍ट व्‍यक्ति की त्‍वचा पर और स्‍ट्रेच मार्क्‍स के बनावट पर निर्भर करता है|
  • क्रीम और मॉश्चराइजर (Cream and moisturizer):- ऐसी क्रीम और मॉश्चराइजर का इस्तेमाल करें, जो त्वचा में खिंचाव या कसाव लाने में मदद करें। नए स्ट्रेच मार्क्‍स के लिए लोशन और क्रीम सर्वश्रेष्ठ हैं, लेकिन वे पुराने स्ट्रेच मार्क्‍स दूर करने में मदद कर सकते हैं। हालांकि, वे उतने असरदार नहीं हैं। रेटीनोइक अमल वाली क्रीम नए स्ट्रेच मार्क्‍स के लिए सर्वश्रेष्ठ होती है।
  • नींबू का रस(Lemon juice):- नींबू का रस एक प्राकृतिक अमल है, जो स्ट्रेच मार्क्‍स को हल्का करता है। नींबू के रस को स्ट्रेच मार्क्‍स पर लगाएं और 10 मिनट बाद धो लें।

स्ट्रेच मार्क्स हटाने के 4 बेस्ट क्रीम(4best creams to remove stretch marks)

आजकल बाजार में कई तरह के स्ट्रेच मार्क हटाने वाली क्रीम मिलती हैं। लेकिन उनमें से कुछ प्रभावी नहीं होते और पूरी तरह से स्ट्रेच मार्क को हटाने में मदद नहीं करते लेकिन कुछ उत्पाद ऐसे हैं जो नियमित रूप से उपयोग करने पर समय के साथ निशान को कम करते हैं। और शरीर से उन स्ट्रेच मार्क से छुटकारा पाने में मदद करते हैं।

1. मेडर्मा स्ट्रेच मार्क्स थेरेपी(Mederma Stretch Marks Therapy):-


स्ट्रेच मार्क्स के लिए क्रीम के रूप में कुछ ऐसा चुनना चाहते हैं, जो पूरी तरह सिर्फ खिंचाव के निशान ठीक करने का काम करती है| मेडर्मा स्ट्रेच मार्क्स थेरेपी मुख्य रूप से स्ट्रेच मार्क्स को ठीक करने का काम करती है। यह त्वचा को हाइड्रेट करने के साथ ही खिंचाव के निशान को हल्का करने में मदद कर सकती है।

2. पामर कोकोआ बटर फॉर्मूला मसाज क्रीम फॉर स्ट्रेच मार्क्स(Palmer Cocoa Butter Formula Massage Cream for Stretch Marks):-


पामर कोकोआ बटर फॉर्मूला मसाज क्रीम स्किन पर मौजूद स्ट्रेच मार्क्स को दूर करने के साथ ही चेहरे की रंगत को निखारने का भी काम कर सकती है। साथ ही इसे डलनेस को दूर करने और त्वचा की नमी को बरकरार रखने के लिए भी जाना जाता है।

3.ब्लू नेक्टर स्ट्रेच मार्क्स एंड स्कार बॉडी लोशन क्रीम विथ कोको बटर, शिया बटर एंड अपलिफ्टिंग रोज(Blue Nectar Stretch Marks and Scar Body Lotion Cream with Cocoa Butter, Shia Butter and Uplifting Rose):-


स्ट्रेच मार्क्स हटाने के लिए क्रीम के रूप में ब्लू नेक्टर को भी इस्तेमाल किया जा सकता है। इस स्ट्रेच मार्क्स क्रीम को बनाते समय हानिकारक रसायन का इस्तेमाल नहीं किया गया है। इसमें कोको और शिया बटर के साथ ही अन्य 12 जड़ी-बूटी को शामिल किया गया है। शायद इसी वजह से स्ट्रेच मार्क्स हटाने की क्रीम के रूप में इसे प्रभावी माना जाता है।

4. नाम्या नेचुरल साइंस बॉडी टोनिंग / स्कल्पटिंग वंडर ऑयल (Namya Natural Science Body Toning / Sculpting Wonder Oil):-


यह एक मल्टीपर्पस ऑयल है। इस ऑयल की मदद से स्ट्रेच मार्क्स को कम करने के साथ ही बढ़ती उम्र के लक्षण जैसे फाइन लाइन्स और झुर्रियों को भी कम किया जा सकता है। इस तेल का नॉन-ग्रीसी फॉर्मूला त्वचा को नरम और मुलायम बनाने का काम करता है। साथ ही डैमेज स्किन को भी रिपयेर कर सकता है। इस तेल को शरीर के किसी भी हिस्से में उपयोग किया जा सकता है।

Tagged : / /

प्रेगनेंसी स्ट्रेच मार्क्स( pregnancy Stretch marks)

स्ट्रेच मार्क्स, जिसे स्ट्रैई भी कहा जाता है, तब होता है जब आपकी त्वचा में वृद्धि या वजन बढ़ने के कारण तेजी से आकार बदलता है।

प्रेगनेंसी के दौरान होने वाले स्ट्रेच मार्क्स (Stretch marks during pregnancy) 

प्रेगनेंसी के दौरान स्ट्रेच मार्क होना एक आम बात है। महिलाओं को स्ट्रेच मार्क्स से गुज़रना ही पड़ता है। कुछ महिलाओं को कम, तो कुछ महिलाओं को ज्यादा स्ट्रेच मार्क्स होने की शिकायत होती है। लेकिन आज हम आपको कुछ ऐसे टिप्स के बारे में बताएंगे, जिससे स्ट्रेच मार्क्स प्रेगनेंसी के दौरान कम आएंगे और जल्द से जल्द ठीक हो जाएंगे। आइए हम जानते हैं कि प्रेगनेंसी के दौरान हमें किन किन बातों का ध्यान रखना चाहिए |

1.प्रेगनेंसी के दौरान हमें इचिंग नहीं करनी चाहिए | (We should not be etching during pregnancy) :- जब प्रेगनेंसी के दौरान पेट की त्वचा खींचती है, तो पेट के आसपास की त्वचा में खुजली की समस्या होती है ऐसे में यदि आप इन जगहों पर खुजली करते हैं, तो त्वचा में निशान आ जाते हैं। इसीलिए पेट के आसपास की जगह पर इचिंग होने पर मॉइश्चराइज़र का इस्तेमाल करें और स्ट्रेच मार्क क्रीम का प्रयोग आपके डॉक्टर से पूछ कर करें। साथ ही कॉटन और सॉफ्ट कपड़ों का इस्तेमाल करें। टाइट और रफ कपड़ों की वजह से भी आपको खुजली की समस्या हो सकती है।

2. प्रेगनेंसी के दौरान हमें भरपूर पानी पीना चाहिए| (We should drink plenty of water during pregnancy) :- गर्भावस्था में महिलाओं को ज्यादा पानी पीना चाहिए है। आमतौर पर महिलाएं जितना पानी पीती हैं, उससे कई ज्यादा पानी की आवश्यकता उन्हें गर्भावस्था के दौरान पड़ती है। लेकिन यदि आप ज्यादा पानी नहीं पीती, तो त्वचा को पर्याप्त नमी नहीं मिल पाती और खिंचाव बढ़ता है। इससे आपको ज्यादा स्ट्रेच मार्क हो सकते हैं। इसीलिए त्वचा को हाइड्रेट रखें और अधिक से अधिक पानी का सेवन करें। आप चाहें तो फलों का रस और नारियल पानी का भी सेवन कर सकती हैं।

3.प्रेगनेंसी के दौरान हमें वजन को नियंत्रित रखना चाहिए | (During pregnancy we should control weight) :- आपको पानी के साथ साथ गर्भावस्था में खाने-पीने का भी ध्यान रखना चाहिए। प्रेगनेंसी के दौरान आपकी डाइट आपकी सेहत का ध्यान रखती है। प्रेगनेंसी में 11 से 16 किलो वज़न बढ़ना चाहिए, लेकिन यदि इससे ज्यादा आपका वज़न बढ़ता है, तो आपको ज्यादा स्ट्रेच मार्क्स की समस्या हो सकती है। इसीलिए जंक फूड से दूर रहें और न्यूट्रिशन से भरपूर खाना खाएं। साथ ही जिस खाने में विटामिन की मात्रा अधिक हो ऐसा खाना आपके लिए फायदेमंद होगा। इससे आपकी त्वचा बेहतर बनी रहेगी और स्ट्रेच मार्क्स कम होंगे।

4.प्रेगनेंसी के दौरान हमें हल्का-फुल्का व्यायाम करना चाहिए | (During pregnancy we should do light exercise) :- प्रेगनेंसी के दौरान हल्का-फुल्का व्यायाम करना आपके लिए अच्छा माना जाता है। इससे त्वचा में फ्लेक्सिबिलिटी आती है और स्ट्रेच मार्क्स कम होते हैं। इससे आपका वज़न भी नियंत्रण में रहता है और आने वाले बच्चे और आपकी दोनों की सेहत बेहतर बनी रहती है। इसलिए डॉक्टर से सलाह लेकर व्यायाम ज़रूर करें।

प्रेगनेंसी के बाद होने वाले स्ट्रेच मार्क्स के उपाय (Stretch marks measures after pregnancy)

गर्भावस्था के दौरान, जैसे–जैसे बच्चा बढ़ता है, महिला का वजन 15 किलोग्राम तक बढ़ सकता है। इससे पेट, स्तनों के आसपास के क्षेत्र सबसे अधिक प्रभावित होते हैं, और यही कारण है, कि आमतौर पर इन क्षेत्रों में स्ट्रेच मार्क्स होते हैं, पेट में स्ट्रेच मार्क्स सबसे आम हैं। ये निशान इसलिए होते हैं क्योंकि आपका शरीर त्वचा की तुलना में तेजी से बढ़ रहा होता है और त्वचा के नीचे के तंतु खिंचाव के कारण टूट जाते हैं। हालांकि स्ट्रेच मार्क्सों के कारण किसी भी चिकित्सीय समस्याओं का सामना नहीं करना पड़ता, यह गर्भावस्था के दौरान और बाद में सौंदर्य के दृष्टिकोण से चिंता का विषय होता हैं।

प्रेगनेंसी के बाद स्ट्रेच मार्क्स हटाने के घरेलू उपाय (Home remedies to remove stretch marks after pregnancy)

अगर आपको प्रेग्नेंसी के बाद स्ट्रेच मार्क्स (Stretch marks) हो गए हैं, तो ज्यादा परेशान होने की जरूरत नहीं है गर्भावस्था के बाद अधिकतर महिलाओं को स्ट्रेच मार्क्स (Stretch marks) पड़ ही जाते हैं। यह शरीर के किसी भी भाग पर हो सकते हैं, जैसे स्तनों और बाजुओं पर, लेकिन सबसे ज्यादा पेट के निचले हिस्से और जांघों पर दिखाई देते हैं। गर्भावस्था के बाद पड़ने वाले स्ट्रेच मार्क्स हार्मोनल बदलाव और अचानक वजन कम होने से हो सकता है |

आइए हम आपको बताते हैं इसके घरेलू उपाय (Let us tell you the home remedies) :-

1.एलोवेरा का प्रयोग (Use of aloe vera):- एलोवेरा का इस्तेमाल स्किन से संबंधित कई समस्याओं को दूर करने के लिए किया जाता है। एलोवेरा का प्रयोग कर स्ट्रेच मार्क्स की समस्या से भी छुटकारा पाया जा सकता है। एलोवेरा को रात में काटकर रख दें। ऐसा करने से येलो कलर्ड लिक्विड (yellow coloured liquid) रात भर में निकल जाएगा। अब इसके एक टुकड़े को निशान वाली जगह पर 15 से 20 मिनट तक रगड़े। मालिश करने के बाद हल्के गुनगुने पानी से त्वचा को धो दें। ऐसा करने से स्ट्रेच मार्क्स कुछ ही दिनों में दूर हो जाएंगे।

2.तेल का प्रयोग (Use of oil) :- तेल की मालिश से इन निशानों को आसानी से दूर किया जा सकता है। कई तरह के तेल मौजूद हैं जो स्ट्रेच मार्क्स (Stretch marks) आसानी से हटा सकते हैं।

3. जैतून का तेल (Olive oil) :- स्ट्रेच मार्क (Stretch marks) दूर करने के लिए जैतून का तेल आसानी से इस्तेमाल किया जा सकता हैं। स्ट्रेच मार्क वाले हिस्से में जैतून का तेल लगाकर उस हिस्से को आधा घंटा के लिए खुला छोड़ दें। इससे तेल के सारे न्यूट्रिएंट्स (Nutrients) हमारे शरीर में अवशोषित हो जाएंगे और मार्क्स से छुटकारा मिलेगा।

4. अरंडी का तेल (Castor oil):- अरंडी के तेल को निशान वाले जगह पर लगाकर मालिश करें। अब प्लास्टिक की पतली थैली लेकर मार्क्स के ऊपर लपेटें। थैली के ऊपर हॉट पैक से मसाज करें। यह उपाय आप नारियल तेल, अरंडी तेल और विटामिन E के तेल को मिश्रित करके भी कर सकते हैं। ऐसा करने से आपको अधिक लाभ होगा।

5. अंडे का लेप (Egg paste) :- अंडे के सफेद हिस्से को अच्छी तरह से फेटने के बाद मार्क्स पर लगाएं और आधा घंटा बाद इसे धो दें | जैतून या तिल का तेल लगाएं। अंडा प्रोटीन से लैस होता है जो डैमेज स्किन को सुधारने का कार्य करता है।

6. शहद (Honey):- दो-तीन चम्मच शहद निशान वाले जगह में लगाकर सूखने के लिए छोड़ दें और सूख जाने के बाद गुनगुने पानी से धो लें। शहद में कई तरह के एंटी-ऑक्सीडेंट (Antioxidant)पाए जाते हैं जो त्वचा के लिए लाभदायक होते हैं। मार्क्स हटाने के लिए आप शहद का इस्तेमाल दूसरी तरह भी कर सकते हैं। इसके लिए आप शहद में थोड़ी मात्रा में नमक और ग्लिसरीन मिलाकर इसे अच्छी तरह से फेंट लें। इस मिश्रण को मार्क्स में लगाकर अच्छी तरह से मालिश करें और सूखने के बाद इसे धो दें।

7. हल्दी और चंदन (Turmeric and Sandalwood) :- हल्दी का एक टुकड़ा लेकर पानी के साथ घिसें। साथ-साथ चंदन के टुकड़े को भी घिसकर पेस्ट तैयार करें। इस पेस्ट को मार्क्स वाले जगह पर लगाकर मालिश करें। आधा घंटा बाद उस जगह को गुनगुने पानी से धो लें। लगातार 3 से 6 महीने तक इसे अपनाने से निशान खत्म हो जाएंगे |

8. आलू का प्रयोग (Use of potatoes) :- आलू को काटकर इसके टुकड़े निशान के ऊपर रगड़ें। आलू में पॉलीफेनोल (Polyphenol) और केराटीन (keratin) भारी मात्रा में पाया जाता है जो त्वचा के लिए फायदेमंद है। आलू के रस से त्वचा में मालिश करने पर स्ट्रेच मार्क्स दूर होते हैं।

9. नींबू (Lemon) :- नींबू के रस को निशान वाले क्षेत्र में लगाकर 10 से 15 मिनट तक मालिश करें। नींबू में विटामिन सी और कई तरह के एंटी ऑक्सीडेंट पाए जाते हैं जो त्वचा के लिए फायदेमंद हैं। रोजाना 10 से 15 मिनट नींबू के रस से मालिश करने से कुछ ही दिनों में मार्क्स नष्ट हो जाएंगे।

प्रेगनेंसी स्ट्रेच मार्क्स हटाने के 6 बेस्ट क्रीम(6 best creams to remove pregnancy stretch marks)

आजकल बाजार में कई तरह के स्ट्रेच मार्क हटाने वाली क्रीम मिलती हैं। लेकिन उनमें से कुछ प्रभावी नहीं होते और पूरी तरह से स्ट्रेच मार्क को हटाने में मदद नहीं करते लेकिन कुछ उत्पाद ऐसे हैं जो नियमित रूप से उपयोग करने पर समय के साथ निशान को कम करते हैं। और शरीर से उन स्ट्रेच मार्क से छुटकारा पाने में मदद करते हैं।

भारत में स्ट्रेच मार्क्स हटाने के लिए 6 सर्वश्रेष्ठ क्रीम की सूची (List of 6 best creams for removing stretch marks in India)

1.सीबीम्ड एंटी-स्ट्रेच मार्क क्रीम (Sebamed Anti-Stretch Mark Cream) :- सेबेड एंटी-स्ट्रेच मार्क क्रीम सबसे महंगी क्रीमों में से एक है। यह त्वचा को पोषण देने, हाइड्रेटेड रखने और खुजली (itching)को कम करने में मददगार है। और इस प्रकार यह स्ट्रेच मार्क (Stretch marks) को भी ठीक करता है।

2. पामरस कोको बटर फॉर्मूला मसाज क्रीम (Palmer’s Cocoa Butter Formula Massage Cream) :- पामर सबसे लोकप्रिय ब्रांडों में से एक है और स्ट्रेच मार्क को कम करने के लिए बहुत लाभदायक है| कई परीक्षणों के बाद लोगों ने पाया है कि क्रीम के नियमित उपयोग से त्वचा की लोच में सुधार होता है।

3. मेडर्मा स्ट्रेच मार्क क्रीम (Mederma Stretch Mark Cream) :- शरीर से स्ट्रेच मार्क्स हटाने के लिए मेडर्मा सबसे अच्छे उत्पादों में से एक है। क्योंकि इस्तेमाल की जाने वाली तकनीक स्ट्रेच मार्क हटाने वाली क्रीम के समान है।

4. इट वर्क्स! स्ट्रेच मार्क क्रीम (It Works! Stretch Mark Cream) :- यह उत्पाद वानस्पतिक अवयवों से बना है यह त्वचा को युवा बनाने को दोबारा स्थापित करता है और जल्दी स्ट्रेच मार्क से छुटकारा पाने में मदद करता है।

5. मुस्टेला स्ट्रेच मार्क क्रीम (Mustela Stretch Mark Cream) :- यह हल्की सुगंधित क्रीम एवोकैडो (Avocado)और गैलेक्टोअरबिनन (Galactorabinan )जैसे पौधे से आधारित तत्वों से बना है जो स्ट्रेच मार्क को रोकता है। इस क्रीम का इस्तेमाल करने वाली 96 प्रतिशत महिलाएं स्ट्रेच मार्क्स को रोकने में सक्षम हैं|

6. रेविटोल स्ट्रेच मार्क क्रीम(Revitol Stretch Mark Cream):- जिन महिलाओं ने इस क्रीम का इस्तेमाल किया उनमें एक बड़ा फर्क देखा गया| क्योंकि स्ट्रेच मार्क्स को दूर करने के लिए यह क्रीम बहुत प्रभावी है। बाजार में यह क्रीम आसानी से मिल जाती है।

प्रेगनेंसी स्ट्रेच मार्क्स हटाने के लिए बेस्ट तेल (Best oil to remove pregnancy stretch marks)

बायो ऑयल क्या होता है (What is bio oil)

बायो ऑयल का उपयोग स्ट्रेच मार्क्स हटाने के लिए किया जाता है बायो ऑयल में विटामिन ई भरपूर मात्रा में पाया जाता है। इसके साथ ही इसमें लैवेंडर (Lavender) , रोजमेरी (Rosemary) और कैमोमाइल (Cammomile) जैसे ऑयल भी शामिल होते हैं।

प्रेगनेंसी स्ट्रेच मार्क्स बायो ऑयल के फायदे (Benefits of pregnancy stretch marks bio oil)

 बायो ऑयल के फायदे यह एक मॉइस्चराइजर की तरह भी काम करता है| यह हर तरह की त्वचा पर सूट करता है | इस्तेमाल के लिए नहाने के बाद अपने हाथो पर थोड़ा सा तेल ले और अपनी त्वचा पर लगाए| ये बड़ी ही आसानी से आपकी त्वचा में समां जायेगा|

गर्भावस्था के बाद स्ट्रेच मार्क्स दूर करने के लिए व्यायाम (Exercise to remove stretch marks after pregnancy)

गर्भावस्था के बाद स्ट्रेच मार्क से छुटकारा पाने के लिए व्यायाम एक अच्छा उपाय हो सकता है। प्रसव के बाद स्किन में ढीलापन आ जाता है जिसे दूर करने के लिए व्यायाम बहुत जरूरी है। स्ट्रेच मार्क हटाने के लिए आप तरह-तरह के स्ट्रेच व्यायाम कर सकते हैं।

1. नौकासन :- पेट के स्ट्रेच मार्क्स हटाने के लिए नौकासन बहुत ही लाभदायक व्यायाम है|
नौकासन करने के लिए सबसे पहले किसी समतल जगह पर चटाई बिछाकर पीठ के बल लेट जाएं।
अब एक लंबी गहरी सांस लें और सांसों को छोड़ते हुए पैर, सिर और छाती को एक साथ ऊपर उठाएं। इस स्थिति में आपके हाथ आपके घुटनों के ऊपर स्ट्रेट होने चाहिए।
ध्यान रहे कि आपकी आंखें, आपके पैर और आपके हाथ सामने की ओर केवल एक दृष्टि में रहे। आसन के दौरान अपने शरीर का पूरा वजन हिप्स पर टिकाएं। ऐसा आप लगातार तीन से चार बार 30 सेकंड के लिए कर सकते हैं।

2. स्क्वैट्स:- स्क्वैट्स (Squats) करने के लिए अपने दोनों हाथों को 90 डिग्री के एंगल में सामने की ओर करें।अब आप कुर्सी की तरह बैठने की कोशिश करें। इसके लिए अपने घुटनों को हल्का सा मोड़े और जांघों को स्ट्रेट लाइन में ले जाएं। ऐसा करते वक्त आपकी छाती आगे की ओर होनी चाहिए।जितने समय तक आप इसे कर सकते हैं उतने समय तक करें और पुनः प्राथमिक अवस्था में आ जाएं।

Tagged : / / /